Friday, 28 October 2016

सभी को दीपावली पर्व पर बहुत बहुत शुभकामनाएँ - बिजय कुमार जैन - हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट

ये दिवाली आपके जीवन, में खुशियों की बरसात
लाए, धन और शौहरत की बौछार करे,
दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं!
बिजय कुमार जैन (bijay jain ) : 9322307908

सम्पादक
मैं भारत हूँ ( Main Bharat Hun )


Thursday, 27 October 2016

हिन्दी को मिले राष्ट्र भाषा का संवैधानिक दर्ज़ा - बिजय कुमार जैन संस्थापक हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट


बिजय कुमार जैन (bijay jain ) : 9322307908

सम्पादक
मैं भारत हूँ ( Main Bharat Hun )


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

कृपया हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करें और हिंदी के बारे में जानकारी लें

Tuesday, 25 October 2016

सभी प्रांतिय भाषाओं की समृद्धि के लिए कार्य करो – दिगम्बराचार्य विध्यसागर जी

भोपाल : 20 अक्टूबर, समय संध्या के छ: बजे, दिगम्बराचार्य विध्यसागर जी की भक्ति पूजा संपन्न होते ही गुरुवर ने भोपाल समाज के कुछ प्रमुखों व हिंदी के प्रथम हस्ताक्षर डॉ. वेद प्रताप वैदिक के साथ मुझे कहा कि ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलाने के लिए संकल्प लो और यह कार्य जल्द से जल्द होना चाहिए | डॉ. वैदिक ने कहा कि गुरूजी अब यह कार्य हो जाएगा कारण यह है कि अब जुनूनी व्यक्तित्व के धनी पत्रकार व संपादक बिजय जी ने यह बीड़ा उठा लिया है | हिंदी भवन, भोपाल में ही भारी संख्या में उपस्थित पत्रकार, साहित्यकारों की बिजय जी ने सभा बुलाई थी और सभी ने प्रण भी लिया कि




हिंदी को मिलेगा राष्ट्रभाषा का सम्मान
और
अब ये बन जायेगा सभी भारतवासियों का अभियान


गुरुदेव विद्यासागर जी ने कहा कि आप लोगों को भारतीय संस्कृति से रमी सभी भाषाओ की समृद्धि के साथ ‘हिंदी’ के लिए कार्य करना चाहि ए, तब ही भारत को राष्ट्रभाषा के रूप में ‘हिंदी’ प्राप्त हो सकती है |


राष्ट्रभाषा हिंदी बनाने के लिए संकल्प की जरुरत है और मैंने आपके द्वारा सम्पादित ‘जिनागम’, ‘मेरा राजस्थान’ व ‘मैं भारत हूँ’ पत्रिका देखी है, बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे है आप, मैं चाहता हूँ कि ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का दर्ज़ा मिलने के लिए आप मेहनत करें, भारत के सभी धर्मों के संतों के साथ मिलकर सभी प्रांतीय भाषाओँ की संमृद्धि के के लिए भी कार्य करें, ताकि सभी राज्यों के भाषाविद का आपको सहयोग मिल सके क्योंकि सभी प्रांतिय भाषाएँ ‘हिंदी’ की बहानें हैं | बिजय कुमार जैन ने गुरुदेव विध्यसागर जी के चरणों में बैठकर प्रतिज्ञा ली कि गुरुदेव | आपके आशीर्वाद को जाया नहीं जाने दूंगा, प्रण करता हूँ कि ‘हिंदी’ को सम्मान दिलाने के साथ सभी भाषाओँ की समृद्धता के साथ सभी को ‘हिंदी’ से जुड़ाव के बाद ही इस धरती से जाऊंगा |


भोपाल से 20 अक्टूबर, 2016 कि रात्रि को ही मुंबई पहुँच गया, 21 अक्टूबर को भोपाल में स्थित हिंदी भवन व राष्ट्रभाषा प्रचार समिति के अध्यक्ष कैलाश चन्द्र जी पंत से बात कि, पंत साहब ने कहा की सम्पूर्ण भारत के सभी भाषाओँ के विद्धानों की सूचि की उपलब्धता पर मैं भी कार्य करना शुरू कर दूंगा और आपसे निवेदन कि सम्पूर्ण राज्यों के मुख्य व प्रधान कि एक सभा संयुक्त रूप से बुलाने के लिए मैं पूरी मदद करूँगा परंतु यह सभा आप अप्रैल, 2017 को बुलाओ, क्योंकि तब तक सभी राज्यों के ‘बजट’ पेश होगे और सभी मुख्य मंत्रियों को हिंदी के विषय पर कार्य करने का मौका मिलेगा और शत-प्रतिशत उपस्थिति भी होगी |


दोस्तों ! मुझे आप सबसे निवेदन है कि आप सबके पास सभी प्रांतीय भाषाओँ के विद्धानों की सूचि उपलब्ध हो तो तुरंत मेरे मेल पर भिजवायें,

Mail Id: hindiwelfaretrust@gmail.com, mailgaylordgroup@gmail.com

साथ ही मुझे मोबाइल – ९३२२३०७९०८ पर संपर्क कर मुझे जरुर बतला दे| दोस्तों ! आपका मिला थोड़ा सा सहयोग हमारे राष्ट्र भारत को पूर्ण आजादी दिलवायेगा अपनी स्वयं की भाषा ‘हिंदी’ में कार्य करना सिखलायेगा | आपके विचारों के इन्तजार में.....


जय भारत
आपका अपना
बिजय कुमार जैन
संस्थापक अध्यक्ष
Hindi Welfare Trust (हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट)


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

कृपया हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करें और हिंदी के बारे में जानकारी लें


Thursday, 20 October 2016

20 अक्टूबर, 2016 को भोपाल में आयोजित पत्रकार सम्मलेन में उपस्थित हो ऐसा नम्र निवेदन है - बिजय कुमार जैन

20 अक्टूबर, 2016 को भोपाल में आयोजित सभा में आप सभी उपस्थित हो ऐसा नम्र निवेदन है.
बिजय कुमार जैन : 9322307908, 022-28509999
संस्थापक : Hindi Welfare Trust



किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Wednesday, 19 October 2016

सुखद समाचार - बिजय कुमार जैन

समस्त भारत वासियों के लिए 'हिंदी' को मिले राष्ट्रभाषा के लिए जद्दोजहद करने वाला विश्वस्थरीय संघठन 'हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट' को भारत सरकार ने पंजकृति क्र. PTR No. 32574 (Mumbai) के अधीन मान्यता प्रदान कर दी है, है न सुखद समाचार....

'हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट' के सभी ट्रस्टीयों ने भारत सरकार को तहेदिल से धन्यवाद दिया है और निवेदन किया है कि जिस प्रकार 'हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट' को भारत में पंजीकृत किया गया है इसी प्रकार 'हिंदी' को भी राष्ट्रभाषा का सम्मान देकर हम १२५ करोड़ भारतवासियों को सम्मानित करवायें |

आपका अपना बिजय कुमार जैन संस्थापक अध्यक्ष

किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Monday, 17 October 2016

हिंदी बनें राष्ट्रभाषा की अगली सभा 20 अक्टूबर, 2016 को भोपाल में आयोजित की गई है

हिंदी बनें राष्ट्रभाषा की अगली सभा 20 अक्टूबर, 2016 को भोपाल में आयोजित की गई है आप सभी से निवेदन है कृपया भारी संख्या में पत्रकार भाई-बहन पधारें और राष्ट्रीय कार्यक्रम को सफल बनायें

बिजय कुमार जैन : 9322307908, 022-28509999
संपादक : Jinagam - Mera Rajasthan - Main Bharat Hun Patrika
संस्थापक : Hindi Welfare Trust



किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Friday, 14 October 2016

पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने की मांग ने पकड़ी रफ़्तार - बिजय कुमार जैन संस्थापाक हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट

पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने की मांग ने पकड़ी रफ़्तार, इसी कड़ी में हमारी अगली सभा २० अक्टूबर, २०१६ को भोपाल में जाकर पहुंचे भरी संख्या में, विशेष जानकारी के लिए संपर्क करें 


बिजय कुमार जैन : 9322307908


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


हिंदी ही हिंद की भाषा प्रवाहित हिंदी ना करे निराशा लाखों बाधाये हो फिर भी हिंदी बन कर रहेगी राष्ट्रभाषा

बिजय कुमार जैन
संपादक व पत्रकार


संस्थापक : ( हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट 'हिंदी कल्याण न्यास') Hindi Welfare Trust
संपर्क करें और बतायें क्या हिंदी राष्ट्रभाषा बनें 'हां: या ना' 9322307908
या इस लिंक को क्लिक करें और साईट विजिट करें निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें
निवेदकबिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Thursday, 13 October 2016

पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने की मांग ने पकड़ी रफ़्तार

पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने की मांग ने पकड़ी रफ़्तार, इसी कड़ी में हमारी अगली सभा का २० अक्टूबर, २०१६ को भोपाल में आयोजन किया गया है.
बिजय कुमार जैन : 9322307908


Tuesday, 11 October 2016

हिंदी को मिल कर रहेगा राष्ट्रभाषा का सम्मान अब यह बना है भारतीय पत्रकारों का अभियान

संपादक व पत्रकार
संस्थापक : (हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट 'हिंदी कल्याण न्यास') Hindi Welfare Trust
संपर्क करें और बतायें क्या हिंदी राष्ट्रभाषा बनें 'हां: या ना' 9322307908




किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें
निवेदकबिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Saturday, 8 October 2016

मीडिया को आगे आकर हिंदी को सम्मान दिलवाना चाहिए – कुमार केतकर, अध्यक्ष, प्रेस क्लब ऑफ़ इंडिया - मुम्बई

कहते हैं जब कभी कोई 'संवादमीडिया अपने स्तर पर उठा लेती हैतो वो कार्य सम्पूर्ण रूप से परिपूर्ण होता है हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट’ द्वारा आयोजित मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रेस क्लब ऑफ़ इंडिया के अध्यक्ष कुमार केतकर ने कहा कि 'हिंदीको संवैधानिक राष्ट्रभाषा का दर्ज़ा तो वर्षों पहले ही मिल जाना चाहिए था परंतु विभिन्न कारणों से नहीं मिल पायाकोई बात नहींअब बिजय कुमार जी जैन जब इस राष्ट्रीय स्तर के मुद्दे को उठाया है और भारी संख्या में आप सभी पत्रकार - संवाददाता (प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक) की यहाँ उपस्थिति देखकर विश्वास हो गया है कि 'हिंदीभाषा को अब 'राष्ट्रभाषाका संवैधानिक दर्ज़ा प्राप्त होकर रहेगाऐसा मुझे विश्वास है |





हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष बिजय कुमार जैन ने सवाल पुछते हुए कहा कि जिस देश की राष्ट्रभाषा नहींउसी भाषा में गाया जाने वाला राष्ट्रगीत / राष्ट्रगान 'जन-गण-मन / वन्दे मातरमकैसे हो सकता हैउन्होंने सभी पत्रकारों से अपील करते हुए कहा कि हम सभी को मिलकर ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलवाना चाहिएपूरे हिंदुस्तान की अब एक ही आवाज बने कि 'हिंदीही हमारी राष्ट्रभाषा है और रहेगीहिंदी को संवैधानिक दर्ज़ा मिलकर रहेगा |
 जय भारत जय हिंदी

किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें
निवेदकबिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

Thursday, 6 October 2016

हो अगर तुम हिन्दुस्तानी तो हिंदी से पहचाने जाओगे मत करो हिंदी की चिंदी हिंदी तो है देश की बिंदी

संपादक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक
हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट ( Hindi Welfare Trust )



हमें अभिमान है हिंदी पर जो है अमिट शान हमारी विश्व पटल पर परचम लहराना यही कामना है हमारी

संपादक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक
हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट ( Hindi Welfare Trust )


Saturday, 1 October 2016

उत्तर प्रदेश - प. बंगाल के साथ मुम्बई से दिल्ली तक हिंदी का शंखनाद हिंदी को मिल कर रहेगा राष्ट्रभाषा का दर्जा - बिजय कुमार जैन

नई दिल्ली : हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट द्वारा आयोजित 'मैं भारत हूँ' एवं दिल्ली हिंदी साहित्य सम्मलेन के संयुक्त तत्वावधान में हिंदी को राष्ट्रभाषा की संवैधानिक मान्यता दिलाने के लिए जन-जागरण अभियान के अंतर्गत २४ सितम्बर 2016 को दोपहर 4 बजे से 7 बजे तक दिल्ली स्थित हिंदी भवन सभागृह में दीप प्रज्ज्वलित कर संपादक बिजय कुमार जैन, विद्वत कवी, साहित्यकारों, पत्रकारों एवं युवा वर्ग की उपस्थिति में बड़े ही उत्साहपूर्वक सपन्न हुआ | 


कार्यक्रम का संचालन महेशचन्द्र शर्मा ने किया | कार्यक्रम की मुख्य अध्यक्षता हिंदी के प्रतम हस्ताक्षर डॉ. वेद प्रताप वैदिक, दिल्ली के महापौर व् दिल्ली हिंदी साहित्य अकादमी के अध्यक्ष महेश चन्द्र शर्मा व कई विभिन्न कलाकारों ने हिंदी को राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलाने पर जोर देते हुए अपना वक्तव्य प्रस्तुत किया और हिंदी में हस्ताक्षर कर सरकार से अपील करें, कि शीघ्र हिंदी को राष्ट्रभाह्सा का सम्मान देकर जन-जन तक पहुंचाया जाए | 


कार्यक्रम के दुसरे पहर में विशिष्ट कवियों ने अपनी वाणी और कविताओं से कार्यक्रम की उपस्थिति रही, इस मौके पर वैदिक जी ने हिंदी को अधिक से अधिक प्रयोग करने की प्रेरणा दी, जिसमे हिंदी में  हस्ताक्षर करने पर विशेष रूप से जोर दिया गया और कहा कि जहां भी जाएं हिंदी में बात करें, हिंदी को शिक्षा का माध्यम बनाएं | शम्भुनाथ पाण्डे जी ने कहा कि हमें हिंदी भाषा को आखिरी उंचाईयों तक ले जाना है, इसके लिए चाहे हमें भूख हड़ताल या आंदोलन क्यों ना करना पड़े, अंत तक हम प्रयत्नशील रहेंगे, जब जब तक की हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्ज़ा नहीं मिलेगा, संपादक बिजय कुमार जैन ने कहा कि यदि आप लोग मेरा साथ दें तो विश्व हिंदी दिवस 10 जनुवरी 2017 को मुम्बई से दिल्ली तक रेलयात्रा का आयोजन करूं, जिसमे ट्रेन के 2-3 डिब्बों पर सारी सूचनाएं हिंदी में ही लिखी हो जो 42 स्टेशनों पर रुकेगी, जिससे जन-जन तक संदेश जाएगा कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा नहीं है जो होनी चाहिए | 



कार्यक्रम के अंत में जयपुर के पूर्व न्यायाधीश पानाचंद जैन ने कहा कि हिंदी को सम्मान दिलाने के लिए वो सुप्रीम कोर्ट में पुनः याचिका दायर करेंगे, जिसमे पुरे देश को एक साथ होना पड़ेगा, ऐसे में सरकार को मानना ही पड़ेगा कि हिंदी ही हमारी 'राष्ट्रभाषा' है | कार्यक्रम के अंत में सभी ने एक स्वर में हिंदी को राष्ट्रभाषा का आधिकारिक रूप से दर्जा दिलाने के लिए बिजय कुमार जैन के साथ श्रीमती दीपाली जैन, डॉ. ज्योत्स्ना जैन, रजनी जैन, पानाचंद जैन, डॉ. एन.के.जैन, मुकेश जैन, डॉ. स्वामीओमजी, कृष्णकुमार नरेडा, सुरेश खंण्डेलवाल, आर.पी.जैन, राशी जैन, संतोष खन्ना, आचार्य अनमोल, जे.के.स्वदीप, आर.के.जैन, ज्योति जैन, सनपाल यादव, मीरा सिंह, मोनिका सिंह, विजय गुप्ता एवं उपस्थित सभी हिंदी प्रेमियों ने इस नेक एवं राष्ट्रवादी अभियान का हाथ उठाकर पूरी शक्ति के साथ समर्थन किया



किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें

निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908